लिंफोसाइट्स क्या है? (What Is Lymphocytes In Hindi) | Lymphocytes Meaning In Hindi

आज हम जानेंगे कि लिंफोसाइट्स क्या होता है? (Lymphocytes kya hai) लिंफोसाइट्स के बढ़ने का कारण? (cause of high lymphocytes), लिंफोसाइट्स कैसे बढ़ाएं? (How to increase lymphocytes) , लिंफोसाइट्स घटने का कारण?, लिंफोसाइट्स कैसे कम करें? (how to decrease lymphocytes) इत्यादि

Lymphocytes से जुड़े सारे सवालों के उत्तर आज हम जानेंगे।

लिंफोसाइट्स क्या है? (What Is Lymphocytes In Hindi)

lymphocytes kya hai

आइए जानते हैं लिंफोसाइट्स क्या होता है (Lymphocytes kya hai) या लिंफोसाइट का मतलब क्या होता है (Lymphocytes meaning in hindi)। दोस्तों जैसा कि आप सभी लोगों को पता है कि जब भी हमारे शरीर में कोई bacteria या virus या fungi का अटैक होता है तो उस वक्त हमारे खून में मौजूद white blood cells उस bacteria या virus को मार के खत्म कर देती है।

लेकिन कुछ स्थिति में हमारी श्वेत रक्त कोशिकाएं वायरस या बैक्टीरिया को समझ नहीं पाते हैं और ऐसी स्थिति में उस virus या bacteria से लड़ने का काम Lymphocytes द्वारा किया जाता है।

यानी कि Lymphocytes हमें होने वाले बीमारियों से बचाता है तथा हमें स्वस्थ रखता है।

लेकिन कभी-कभी हमारे शरीर में Lymphocytes level low हो जाती है और कभी-कभी हमारे शरीर में Lymphocytes level high हो जाती है तो कम होने पर और बढ़ने पर भी यह हमारे शरीर को नुकसान पहुंचा सकता है। इसकी एक मात्रा होती है और अगर लिंफोसाइट्स उस मात्रा से अधिक या कम हो जाए तो यह हमारे शरीर के लिए हानिकारक होता है।

शरीर में लिंफोसाइट्स की मात्रा कितनी होती है। (Lymphocytes kitna hona chahiye)

white blood cells की तरह हमारे शरीर में lymphocytes की भी एक न्यूनतम और अधिकतम मात्रा होती है अगर लिंफोसाइट्स हमारे शरीर में कम या ज्यादा हो जाती है तो यह हमारे लिए हानिकारक हो सकता है। आइए जानते हैं कि हमारे शरीर में लिंफोसाइट्स की मात्रा कितनी होती है।

हमारे शरीर में lymphocytes की मात्रा (Lymphocytes level) 20% से 40% के बीच होती है यानी कि 1500 से लेकर 3000 तक होती है

लिंफोसाइट्स (Lymphocytes) बढ़ने से क्या होता है? (Lymphocytes badhne se kya hota hai)

अगर हमारे शरीर में किसी वायरस व्यक्ति या या संगीता आक्रमण होता है तो ऐसी स्थिति में हमारा शरीर उस वायरस से बचने के लिए लिंफोसाइट्स की मात्रा बढ़ाने लगता है और इसी के साथ-साथ हमारे शरीर में मौजूद श्वेत रक्त कोशिकाओं की मात्रा को भी बढ़ाने लगता है लेकिन अगर इसकी मात्रा बहुत अत्यधिक बढ़ जाए तो इसे हम Lymphocytosis कहते हैं।

लिंफोसाइट्स के बढ़ने का कारण क्या है? (Lymphocytes badhane ka karan kya hai)

आइए जानते हैं कि किस किस स्थिति में हमारे शरीर में Lymphocytes की मात्रा साधारण मात्रा से अधिक हो जाती है।

  • डिप्थीरिया – डिप्थीरिया एक प्रकार का बैक्टीरियल संक्रमण होता है जो कि सीधे नाक और गले के झिल्ली में अपना असर दिखाती है डिप्थीरिया बहुत ही आसानी से लोगों में फैलती है डिप्थीरिया का संक्रमण होने पर आपको जुखाम सर्दी बुखार शरीर में दर्द कमजोरी इत्यादि महसूस होने लगेगी।
  • लेकिन अगर हम इसके लिए दवाई लेते हैं तो यह पूरी तरह से ठीक हो जाती है।
  • TV – अगर किसी इंसान को टीवी हो जाती है तो ऐसी स्थिति में भी हमारे शरीर में लिंफोसाइट्स की मात्रा बहुत अधिक बढ़ जाती है।
  • रिकेट्स माल न्यूट्रिशन जैसे बीमारी में भी लिंफोसाइट्स की मात्रा बढ़ने लगती है।

आसान भाषा में कहें तो हर तरह के बीमारी में हमारे शरीर में लिंफोसाइट्स की मात्रा बढ़ने लगती है जरूरी नहीं है कि मैंने जो बीमारी ऊपर बताए हैं उसी बीमारी में ही लिंफोसाइट्स की मात्रा बढ़ेगी।

Lymphocytes किसी भी प्रकार की बीमारी में बढ़ सकती है वह चाहे कोई बैक्टीरियल डिजीज हो या कोई वायरस से जुड़ी संक्रमण हो लेकिन इसका पता आप खुद लगा सकते हैं कि आपके शरीर में लिंफोसाइट्स क्यों भाई हैं क्योंकि जब भी लिंफोसाइट्स की मात्रा बढ़ती है उसी दौरान यानी कि 7 दिन के अंदर आपको कोई बीमारी या कहीं कोई सूजन इत्यादि जैसे लक्षण दिखने लगते हैं। यह लक्षण साधारण भी हो सकते हैं और जानलेवा भी हो सकते हैं।

लिंफोसाइट्स घटने से क्या होता है? (Lymphocytes kam hone se kya hota hai)

अगर हमारे शरीर में Lymphpocytes की मात्रा 20% से कम हो जाती है तो इसे हम Lymphocytopenia के नाम से जानते हैं

ऐसी स्थिति में हमारे शरीर में लिंफोसाइट्स की मात्रा कम हो जाती है यानी कि अब हमारा शरीर किसी वायरस या व्यक्ति रिया से लड़ने में असक्षम हो जाता है।

लिंफोसाइट्स के कम होने का कारण? (Lymphocytes kam hone ka karan)

कभी-कभी हमारे शरीर में Lymphocytes की मात्रा 20% से कम होने लगती है तो आइए जानते हैं कि किस किस स्थिति में हमारे शरीर में Lymphocytes की मात्रा कम होने लगती है?

  • Under Nutrition – अगर कोई इंसान अपने खान-पान पर ध्यान नहीं दे रहा है वह हर तरह के भोजन का सेवन नहीं करता है तो ऐसी स्थिति में उसके शरीर में लिंफोसाइट्स की मात्रा घटने लगती है।
  • HIV, Hepatitis, Lymphoma, Steroid, Chemotherapy, Radiation therapy जैसी स्थिति में भी हमारे शरीर में लिंफोसाइट्स की मात्रा घटने लगती है।

क्या आप जानते हैं?

लिंफोसाइट्स कम या ज्यादा करने के उपाय?

अगर blood test में आपके ब्लड में लिंफोसाइट्स की मात्रा कम या ज्यादा है तो ऐसी स्थिति में इसे आप बैलेंस करने की सोचते हैं और इसके लिए आपके मन में सवाल आता होगा कि हमें क्या खाना चाहिए, कितना खाना चाहिए क्या पीना चाहिए इत्यादि।

लिंफोसाइट्स कम करने के उपाय? (Lymphocytes kam karne ke upay)

मेरी सलाह मानें तो लिंफोसाइट्स को कम करने के लिए किसी घरेलू नुक्से पर मत जाइए क्योंकि आपको सिर्फ इतना पता है कि हमारे खून में लिंफोसाइट्स की मात्रा कम है लेकिन आपको यह नहीं पता है कि इसके पीछे का कारण क्या है क्योंकि लिंफोसाइट्स कम होने का कोई एक कारण नहीं होता है बहुत से अलग-अलग बीमारी में हमारे शरीर में लिंफोसाइट्स की मात्रा कम हो जाती है।

ऐसी स्थिति में आपको अपने डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए ना की किसी घरेलू नुक्से पर जाना चाहिए।

  • आप अपनी तरफ से सिर्फ अपने खान-पान में ही ध्यान दे सकते हैं अच्छी भोजन का सेवन करें वक्त पर पानी पी इत्यादि‌।
  • बाकी डॉक्टर द्वारा दी गई सलाह को माने।

लिंफोसाइट्स बढ़ाने के उपाय? (Lymphocytes badhane ke upay)

अगर रिपोर्ट में आपको यह पता चलता है कि आपके शरीर में Lymphocytes की मात्रा कम हो गई है तो ऐसी स्थिति में लिंफोसाइट्स को बढ़ाना बेहद जरूरी है और इसके लिए आप किसी अच्छे डॉक्टर से सलाह ले सकते हैं।

लिंफोसाइट्स के बढ़ने के बहुत से अलग-अलग कारण होते हैं यानी कि यह किसी एक कारण से नहीं बढ़ती है इसलिए हमेशा डॉक्टर से मिलकर ही कोई कदम उठाएं

Must Read

Conclusion

आज हमने जाना कि लिंफोसाइट्स क्या होता है (lymphocytes kya hai) हमारे शरीर में Lymphocytes बढ़ने पर क्या होता है? तथा हमारे शरीर में Lymphocytes के घटने पर क्या होता है?

यहां तक पढ़ने के लिए आप सभी लोगों का बहुत-बहुत धन्यवाद आपका दिन शुभ और मंगलमय हो‌।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

घर बैठे पैसे कैसे कमाएं? [25,000 हर महीने]