ITI मैं एडमिशन के लिए कितना प्रतिशत चाहिए?

दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम iti me admission ke liye kitne percentage chahiye इसके बारे में जानेंगे।

जो भी छात्र और युवा 10th और 12th के बाद जॉब पाना चाहते हैं। अधिकतर छात्र iti course को करते हैं।

जो छात्र आईटीआई कोर्स को करना चाहते हैं उनके मन में यह प्रश्न जरूर होता है कि आईटीआई में एडमिशन के लिए कितने परसेंटेज चाहिए होते हैं? आर्टिकल में इन सारे महत्वपूर्ण जानकारियों को जानेंगे।

इस आर्टिकल में हम आईटीआई से जुड़ी और भी महत्वपूर्ण जानकारियों को जानेंगे जो कि आईटीआई करने वाले छात्रों के लिए बहुत जरूरी है।

जब हम आईटीआई कोर्स को करना चाहते हैं तब हमारे मन में बहुत सारे प्रश्न होते हैं उसमें से सबसे महत्वपूर्ण प्रश्न यह है कि आईटीआई में एडमिशन कैसे लें, आईटीआई में एडमिशन के लिए कितने परसेंटेज की जरूरत होती है? आईटीआई में एडमिशन के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए?

आज इस आर्टिकल में हम इन सारे जानकारियों को विस्तार से जानेंगे अगर आप आईटीआई में दाखिला लेना चाहते हैं और इन सारी जानकारी को पाना चाहते तो हमारे इस आर्टिकल को पूरा ध्यान से पढ़ियेगा।

Iti me admission ke liye kitna percentage marks chahye

ITI मैं एडमिशन के लिए कितना प्रतिशत मार्क्स चाहिए?

Directorate General of Employment and Training (DGET) ही आईटीआई के गाइडलाइन बनाती है इसके आधार पर किसी भी अंक प्रतिशत को आईटीआई के दाखिला के लिए तय नहीं की गई है।

ITI course में दाखिला लेने के लिए अंक प्रतिशत तय नहीं किए गए हैं। यह अंक प्रतिशत को इंस्टीट्यूट के आधार पर बदलते रहते हैं हर एक इंस्टिट्यूट की अलग-अलग अंक प्रतिशत होती है। डीजीईटी के गाइड लाइन के अनुसार आईटीआई शिक्षण संस्थान अंक प्रतिशत खुद से ही तय करती है।

अगर आप किसी सरकारी आईटीआई संस्थान से इस कोर्स को करना चाहते हैं तो आपको कम से कम 60% से 70% अंक अपने आठवीं कक्षा से लेकर बारहवीं कक्षा में लानी होती है।

सरकारी आईटीआई संस्थान दाखिला के लिए प्रवेश परीक्षा आयोजित कर आती है और इस प्रवेश परीक्षा के द्वारा ही आपको उस आईटीआई संस्थान में दाखिला मिलता है।

प्राइवेट आईटीआई शिक्षण संस्थानों में अंक प्रतिशत थोड़ा कम होते हैं आप 50% अंकों के साथ भी इन कॉलेज में दाखिला ले सकते हैं।

यह अंक प्रतिशत राज्य के अनुसार भी बदलते रहते हैं औसतन किसी भी राज्य में आईटीआई कोर्स को करने के लिए आपको 10वीं या 12वीं कक्षा में कम से कम 60% अंक लाने होते हैं।

आईटीआई में एडमिशन लेने के लिए योग्यता (Eligibility for ITI admlission)

 ITI course में कई तरह के कोर्स होते हैं और उन्हीं कोर्स के अनुसार से ही प्रश्न के उत्तर तय की जाती है। आईटीआई ट्रेड के अनुसार आपको कम से कम किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से आठवीं से लेकर बारहवीं कक्षा की परीक्षा पास करनी होती है।

आप के चुने हुए ट्रेड के अनुसार कक्षा की योग्यता तय होती है।अलग-अलग trade में अलग-अलग होती है।

ITI COURSE  age limit 

  • आईटीआई कोर्स को करने के लिए आप की न्यूनतम आयु 14 वर्ष तथा अधिकतम आयु 40 वर्ष होनी चाहिए।
  • SC/ST वर्ग के छात्रों के लिए सरकार ने इस आयु सीमा में 3 वर्ष की छूट प्रदान की हुई ।
  •  विकलांग छात्रों के लिए आयु सीमा में 10 वर्ष की छूट प्रदान की गई है।
  • Ex-serviceman/widows/separated women के लिए इस आयु सीमा में 5 वर्ष की छूट प्रदान की गई है।

आईटीआई के बाद ग्रेजुएशन कैसे करें?

आईटीआई का महत्व (Importace of ITI) 

ITI  course के द्वारा आज युवाओं को बहुत अच्छे और बहुत सारे नौकरी के अवसर प्राप्त होते हैं क्योंकि इस कोर्स में आपको  engineering trade और non engineering trade जैसी स्किल सिखाई जाती है यह कोर्स पूरी तरह से industrial based है

इसमें आपको पूरी तरह से इंडस्ट्री के लिए तैयार किया जाता है इसीलिए इस कोर्स की मांग आज के समय में बहुत याद आ रही है और अधिकतर युवा जो कि बहुत जल्दी नौकरी पाना चाहते हैं वह इसको उसको कर रहे हैं क्योंकि किसी भी नौकरी के लिए इसकी बहुत जरूरी है और इस कोर्स में आप के हुनर पर ही बहुत ज्यादा ध्यान दिया जाता है।

आईटीआई कोर्स का मुख्य उद्देश्य है कि वह हमारे युवाओं को हुनर सिखाएं। ताकि वे आज के इंडस्ट्रियल मार्केट में एक अच्छी नौकरी पा सके किसी भी नौकरी को पाने के लिए सबसे जरूरी चीज होती होना था और आईटीआई का मुख्य उद्देश्य है कि वह हमारे युवाओं को हुनरमंद बनाएं इसीलिए आईटीआई में इंजीनियरिंग और नॉन इंजीनियरिंग ट्रेड है।

आईटीआई करने के फायदे अनेक हैं इस कोर्स के द्वारा आप पूरी तरह से इंडस्ट्री के लिए तैयार हो जाते हैं इसमें आपको इंडस्ट्री के की ट्रेनिंग दी जाती है इसीलिए इस कोर्स की मांग रेलवे कंस्ट्रक्शन मैकेनिकल और non engineering trade में बहुत है।

आईटीआई कोर्स के द्वारा सरकार का लक्ष्य है कि हमारे देश में skill workforce क्योंकि किसी भी इंडस्ट्री के लिए यह सबसे जरूरी और देश के विकास के लिए इंडस्ट्रीज सबसे जरूरी है।

इसीलिए देश के सरकार ने स्किल इंडिया के तहत आईटीआई कोर्स में और भी बहुत ज्यादा ध्यान दिया है ताकि आने वाले समय में हमारे देश में पर्याप्त मात्रा में skill manpower हो सके।

आईटीआई में एडमिशन लेने के लिए किन किन बातों का ध्यान रखना चाहिए

आज के समय में आईटीआई कोर्स की मांग बहुत तेजी से बढ़ गई है जिस कारण से आज हमारे देश के हर शहर में बहुत सारे प्राइवेट आईटीआई शिक्षण संस्थान खुल गई है इनमें से बहुत सारी शिक्षण संस्थान ने fake होती हैं।

यह बच्चों से पैसे लेकर उन्हें अच्छी ट्रेनिंग नहीं देते तथा उन्हें सर्टिफिकेट भी नहीं प्रदान करती हैं आज ऐसे बहुत से आईटीआई संस्थान है जहां से आप घर बैठे ही आईटीआई की डिग्री ले सकते हैं यह सारी शिक्षण संस्थान गैरकानूनी तरीके से चलाए जा रहे हैं इस तरह के संस्थानों में दाखिला लेने से आपका बहुत ज्यादा नुकसान है।

गैर कानूनी शिक्षण संस्थानों से बचने के लिए आप निम्नलिखित  जानकारियों को ध्यान में जरूर रखें।

  • सबसे पहले यह जरूर देखें कि आईटीआई शिक्षण संस्थान DGET से मान्यता प्राप्त है कि नहीं क्योंकि हमारे देश के सरकारी तथा प्राइवेट आईटीआई शिक्षण संस्थान DGET  से मान्यता लेते हैं। एक सरकारी काउंसिल है जोकि आईटीआई शिक्षण संस्थानों के नियमों को बनाती है और शिक्षण संस्थानों के नियमों का पालन करने के लिए दिशानिर्देश जारी करते हैं।
  • जिस भी आईटीआई शिक्षण संस्थान में आप दाखिला लेने जा रहे हैं वहां पहले से पढ़ रहे हैं छात्रों से अच्छी तरह से जानकारी जुटा लें और आसपास के लोगों से भी जानकारी जुटा ले। 
  •  दाखिला लेने से पहले आप यह जरूर जांच लें कि उस आईटीआई शिक्षण संस्थान में all india trade test के द्वारा परीक्षाएं आयोजित कराई जाती है।परीक्षा के द्वारा आपको नेशनल ट्रेड सर्टिफिकेशन प्राप्त होता है और यही सर्टिफिकेट आपके आईटीआई करने का प्रमाण होता है।

आईटीआई के बाद पॉलिटेक्निक कैसे करें

Concluson 

 दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हमने आईटीआई में एडमिशन के लिए कितने परसेंटेज चाहिए इसके बारे में जाना है इस आर्टिकल में हमने आईटीआई के संबंधित और भी बहुत सारी महत्वपूर्ण जानकारियों को जाना है।

आईटीआई करने के बाद आपके पास बहुत सारे नौकरी के अवसर होते हैं आप ITI करने के बाद अप्रेंटिस कर सकते हैं और उसके बाद आपके पास और भी नए नए अवसर खुलकर सामने आ जाएंगे।

मुझे उम्मीद है कि इस आर्टिकल को पढ़कर आपको आईटीआई  के बारे में बहुत ही महत्वपूर्ण जानकारियां मिली होंगी। अगर आपको हमारे आर्टिकल पसंद आया तो हमारे आर्टिकल को शेयर जरूर करें। हमारा आर्टिकल के संबंधित कोई राय देना चाहते तो आप कमेंट करके जरूर बताएं।

धन्यवाद

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

घर बैठे पैसे कैसे कमाएं? [25,000 हर महीने]