NDRF क्या है, कैसे जुड़े | NDRF की पूरी जानकारी हिंदी में

NDRF kya hai – NDRF Kaise Join Kare भारत एशिया का सातवां सबसे बड़ा देश है और इसके चलते यहां की आबादी भी बहुत ज्यादा है और भारत आज भी पूरी तरह से शहरीकरण नहीं हुआ है।

अभी भी बहुत से जगह ऐसे हैं जिसमें कि आपको बड़े बड़े बिल्डिंग देखने को नहीं मिलेंगे बड़ी बड़ी इमारत  देखने को नहीं मिलेंगे लेकिन फिर भी वह जगह प्राकृतिक रूप से इतनी ज्यादा सुंदर है कि कई जगहों से यहां तक कि भारत के बाहर से भी लोग उस जगह को देखने आते हैं।

लेकिन कभी-कभी हम प्राकृतिक के मार से नहीं बच पाते हैं हमारे साथ कुछ ऐसा हो जाता है जिसके उम्मीद हमने सपनों में भी नहीं किया होगा।

मैं आपसे बात कर रहा हूं बाढ़ सुनामी भूकंप जैसी प्राकृतिक आपदाओं का जब भी इस तरह की कोई आपदाएं हमारे देश में घटित होती है तो इसका असर पूरे देश में होता है इसमें सिर्फ धनहानि ही नहीं बल्कि बहुत ज्यादा मात्रा में जनहानि भी होती है यानी कि इसमें लाखों संख्याओं में लोग मारे जाते हैं।

हॉस्पिटल स्कूल घर सब कुछ पूरी तरह से तबाह हो जाता है लोगों के पास ना खाने के लिए कुछ होता है ना पहनने के लिए उनके पास कपड़े होते हैं और ना ही रहने के लिए उनके पास कोई घर होता है।

वह पूरी तरह से बेघर हो जाते हैं और इस स्थिति में उनका मदद करने वाला भी कोई नहीं होता है क्योंकि यहां इस तरह की आपदाओं के वक्त सारे लोग मुश्किल में पड़ जाते हैं लोग चाह कर भी एक दूसरे की मदद नहीं कर पाते हैं लेकिन सरकार ने इन बुरे स्थितियों से निपटने के लिए।

NDRF नामक फोर्स की स्थापना की ताकि इस बुरे परिस्थिति में लोगों की मदद की जा सके।

NDRF क्या है? (What is NDRF)

NDRF kya hai – अगर हम आपसे बात करें 90 के दशक के बारे में तो उस वक्त दुनिया के अलग-अलग कोने में अलग-अलग प्रकार के फोर्स काम कर रहे थे लेकिन भारत में इस तरह की कोई फोर्स नहीं थी लेकिन फिर 2005  में भारत सरकार ने भारत में भी इसी तरह का एक फोर्स की स्थापना की और इसका नाम NDRF दिया गया ताकि पूरे परिस्थितियों में बाढ़ भूकंप सुनामी जैसी प्राकृतिक आपदाओं के वक्त लोगों तक मदद पहुंचाया जा सके उनकी मदद की जा सके।

NDRF ka full form kya hai

NATIONAL DISASTER RESPONSE FORCE

  1. सन 1999 में भारत का एक राज्य उड़ीसा में एक चक्रवात आया।
  2. सन 2001 में गुजरात के अंदर भूकंप के बहुत बड़े झटके देखने को मिले जिसमें किताब भी ज्यादा धन हानि और जनहानि भी हुई।
  3. और फिर 2004 में भी भूकंप के चलते पूरे भारत में इसके झटके को महसूस किया गया और इसमें भी काफी ज्यादा नुकसान हुआ कई बिल्डिंग कई इमारतें स्कूल हॉस्पिटल चंद सेकेंड में मिट्टी में मिल गए।

इन सारे अलग-अलग प्राकृतिक आपदाओं को देखते हुए सरकार ने निर्णय लिया कि हमारे देश में भी कोई एक ऐसी फोर्स होनी चाहिए जो इन प्राकृतिक आपदाओं के वक्त में लोगों की मदद की जा सके लोगों तक मदद पहुंचाया जा सके जैसे कि खाना कपड़ा स्वास्थ्य से जुड़ी सामान इत्यादि और इन सभी चीजों को  नजर रखते हुए 2005 में NDRF की स्थापना की गई।

इस पूरे फोर्स को 12 बटालियन में बांटा गया जिसमें की हर जवान को विभिन्न प्रकार की आपदाओं से बचने की तथा लोगों को बचाने की बहुत स्पेशल ट्रेनिंग दी गई और आगे भी दी जा रही है ताकि मुसीबत के वक्त यह पीड़ित लोगों को बचा सकें यह फोर्स भारत के प्रधानमंत्री के अधीन काम करती है।

NDRF की पूरी जानकारी?

भारत के एनडीआरएफ फोर्स में कुल 12 बटालियन है जिसमें की  प्रत्येक बटालियन में 1149 जवान है इनका मुख्य काम होता है प्राकृतिक या मानव निर्मित आपदाओं में से लोगों को बचाना उन्हें वहां से सुरक्षित निकालना।

इन बटालियन में सभी तरह के लोग होते हैं जैसे कि चिकित्सक, इलेक्ट्रिशियन तकनीशियन, इंजीनियर इत्यादि हर एक तरह के लोग होते हैं जिससे कि लोगों को सही समय पर मदद की जा सके।

भारत के NDRF force पूरे देश विदेश में हमेशा से एक चर्चा का विषय रहा है क्योंकि यह अपने काम को बहुत है अच्छी तरह से करते हैं  या फोर्स अभी तक 73 से भी ज्यादा मिशन कंप्लीट कर चुकी है और वह अपने मिशन में सक्सेसफुल भी रहे हैं इन्होंने 500000 से भी ज्यादा लोगों को बचा कर उन्हें उनके घर सही सलामत पहुंचाया।

यह NDRF लोगों में जागरूकता फैलाने के लिए भी कई तरह के अलग-अलग कार्यक्रम करते हैं  स्कूलों कॉलेजों और कई अलग-अलग सरकारी संस्थाओं में जाकर लोगों को जागरूक करते हैं उन्हें सिखाते हैं कि कैसे हम प्राकृतिक आपदाओं के वक्त बुरे परिस्थितियों में हम अपने आप को और अपने आसपास के लोगों को कैसे सुरक्षित रख सकते हैं।

NDRF मैं नौकरी कैसे करें?

 दोस्तों आप इस फोर्स में सीधे भर्ती नहीं हो सकते यानी कि इस फोर्स में भर्ती के लिए डायरेक्टली कोई एग्जाम नहीं होता है आप 12वीं पास होने चाहिए  तथा आपको SSB, ITBP या CRPF में से किसी भी एक पैरामिलिट्री फोर्स में भर्ती होना होगा और उसके बाद इन फोर्स में रहते हुए आप NDRF के लिए अप्लाई कर सकते हैं।

NDRF की 12 बटालियन में से

  • 3 BSF
  • 3 CRPF
  • 2 ITBP
  • 2 CISF
  • 2 SSB 

अगर आप की भी इच्छा NDRF  में जाने का है आप भी सोच रहे हैं कि आप इस देश के लिए कुछ करना चाहते हैं आप  इन forces को ज्वाइन करना चाहते हैं तो आप इनके ऑफिशल वेबसाइट www.ndrf.gov.in ने जाकर इनसे जुड़ी अधिक जानकारी ले सकते हैं।

इसे भी पढ़ें

NDRF कैसे ज्वाइन करें? (Join NDRF)

NDRF kaise join kare – दोस्तों ज्वाइन करने के लिए सबसे पहले आपको जैसे फोर्स को ज्वाइन करना होगा और ज्वाइन करने के बाद आपको उसमें कम से कम 3 साल तक अपनी सेवा देनी होगी आज इसके बाद आप चाहे तो के लिए अप्लाई कर सकते हैं अगर इसमें आपका सिलेक्शन हो जाता है तो आपको विशेष प्रकार की ट्रेनिंग दी जाएगी जिसमें की आपको सिखाया जाएगा की बुरी परिस्थितियों में खुद को सुरक्षित रखते हुए दूसरे लोगों की जान को कैसे बचाया जाता है और आपके ट्रेनिंग पूरी होने के बाद आपको अलग-अलग जगहों में भेजा जाएगा।

NDRF salary details

अगर मैं आपसे बात करूं इस की सैलरी की तो वह भारत में रैंक के हिसाब से 8,000 रूपए से लेकर 79,000 रूपए तक हो सकती है।

NDRF Battalions की सूची

जैसा कि मैंने आपको पहले ही बताया है कि मैं कुल 12 बटालियन है तो अब मैं आपको बताऊंगा कि 12 बटालियन कौन-कौन से है  और इनकी ट्रेनिंग सेंटर हमारे भारत में कहां कहां मौजूद है।

S.no.NDRF बटालियनCPFState
1NDRF कोलकाताBSFwest bengal
2NDRF गुवाहाटीBSFasam
3NDRF गाजियाबादITBPutterpradesh
4NDRF भटिंडाITBPpunjab
5NDRF मुंडलीCISFOdisa
6NDRF पुणेCRPFmaharastra
7NDRF आरा कोरमCISFtamilnadu
8NDRF पटनाBSFbihar
9NDRF गांधीनगरCRPFgujrat
10NDRF वाराणसीSSButterpradesh
11NDRF विजयवाड़ाCRPFandrapradesh
12NDRF ईटानगरSSBarunachalpradesh

Conclusion

दोस्तों आज के समय में हर देश आगे बढ़ने में लगा है और कुछ हद तक यह बात सही भी है कि हमें हमेशा आगे बढ़ते रहना चाहिए लेकिन कभी-कभी हमारे इस सफर में प्राकृतिक आपदा जैसे गंभीर घटना होने पर किसी भी देश को यह बहुत पीछे धकेल देती है और फिर इससे उबर पाना बहुत ज्यादा मुश्किल हो जाता है लेकिन NDRF  फोर्स के आने के बाद काफी हद तक राहत मिली है।

1 thought on “NDRF क्या है, कैसे जुड़े | NDRF की पूरी जानकारी हिंदी में”

  1. NDRF के अद्बुत प्रतिभा को देखते हुए मे भी इस कल्याणकारी फाॅर्स को ज्वाइन करना चाहता हूँ। कृप्या करके मुझे अपना address बताए, ताकि मे वहाँ जाकर आपसे बात कर सकु।
    धन्यवाद
    राजेश।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

घर बैठे पैसे कैसे कमाएं? [25,000 हर महीने]