MPPSC में कौन कौन सी पोस्ट होती है?

एमपीपीएससी में कौन कौन सी पोस्ट होती है? MPPSC में किन किन पदों पर नियुक्ति होती है? MPPSC के posts क्या क्या हैं? एमपीपीएससी से जुड़े इस तरह के सवाल बहुत से विद्यार्थियों द्वारा सर्च किए जाते हैं।

दोस्तों आज के समय में सिविल सर्विस में रुचि रखने वाले मध्य प्रदेश के और दूसरे राज्यों के भी बहुत से विद्यार्थी mppsc की तैयारी करते हैं, पर बहुत से विद्यार्थी ऐसे भी होते हैं जिन्हें एमपीपीएससी से संबंधित पूरी जानकारी नहीं होती, बहुतों को इसका पूरा ज्ञान नहीं होता कि एमपीपीएससी के अंतर्गत कौन-कौन से posts आते हैं, जिनकी परीक्षा की वे तैयारी कर सकते हैं।

आज यहां इस लेख में हम मुख्य तौर पर इसी की बात करेंगे कि एमपीपीएससी में कौन-कौन से posts आते हैं, जो विद्यार्थी इसके लिए तैयारी करते हैं वे कौन-कौन से पदों पर नौकरी ले सकते हैं।

किसी एक राज्य विशेष की सिविल सेवाओं की परीक्षा उस राज्य के हिसाब से आयोजित की जाती है, और उसी राज्य के विद्यार्थियों के लिए यह और भी फायदेमंद होता है।

पहले संक्षिप्त में जानते हैं कि एमपीपीएससी क्या है, इसमें कौन-कौन से पोस्ट आते हैं और फिर इससे संबंधित दूसरी जरूरी बातें भी जानेंगे।

एमपीपीएससी क्या है?

एम पी पी एस सी का पूरा नाम Madhya Pradesh public service commission है।

आसान भाषा में जिस तरह UPSC द्वारा केंद्र के अधीन लोक सेवक (civil servant) बनने का मौका मिलता है जैसे कि collector इत्यादि, उसी तरह mppsc एक ऐसी संस्थान है जो मध्यप्रदेश राज्य के अधीन लोक सेवक बनने का मौका देती है।

जिस तरह झारखंड राज्य के लिए जेपीएससी बिहार के लिए बीपीएससी इत्यादि हैं, उसी तरह मध्यप्रदेश के लिए एमपीपीएससी होती है।

यह वर्ष भर कई exams का आयोजन करती है, जिसमें State Service Examination, State Forest Service Examination, State Engineering Service Examination आदि आते हैं।

MPPSC में सभी परीक्षाओ का अपना अपना महत्व है, परन्तु State Service Exam का महत्त्व students के बीच सबसे ज्यादा होता है, ज्यादातर Aspirants state service exam को पास करके Deputy Collector बनने का सपना देखते हैं।

MPPSC में कितने पोस्ट हैं?

MPPSC के अंतर्गत ढेरों पदों के लिए परीक्षा आयोजित की जाती है। इसमें डिप्टी कलेक्टर, कमर्शियल टैक्स ऑफिसर, डीएसपी जैसे बड़े-बड़े पद और इनके अतिरिक्त कई अन्य ऊंचे posts के लिए भी परीक्षा होती है।

इसके अंतर्गत आने वाले विभागों की बात की जाए, तो फाइनेंस डिपार्टमेंट, जनसंपर्क विभाग, स्कूल एजुकेशन, खाद्य विभाग, राजस्व और श्रम विभाग जैसे अनेक विभाग आते हैं, और इनसे जुड़े पदों के लिए परीक्षाएं आयोजित की जाती है।

हर साल मध्य प्रदेश पब्लिक सर्विस कमीशन द्वारा उनके राज्य में सिविल सेवाओं में खाली पदों के लिए वेकेंसीज निकाली जाती है, अलग-अलग विभागों में अलग-अलग पोस्ट पर आवेदन मांगे जाते हैं।

MPPSC में इन अलग-अलग डिपार्टमेंट के अंतर्गत आने वाले पदों के नाम में

  • Dept. of General Administration में State Administrative Service और Deputy Collector का पद
  • Home Police Dept. में State Police Service, Deputy Superintendent of Police (GD) और Jina Fighter का पद
  • Dept. of Public Relations में Assistant Director, Public Relation का पद
  • School Education Dept. में Assistant Director का पद
  • Cooperative Dept. में Assistant Commissioner और Asst Registrar का पद
  • Jail Department में Superintendent का पद
  • Revenue Department में Naib Tehsildar का पद,
  • Cooperative Dept. में Cooperative Inspector या Extension Officer का पद और Forest department में Assistant Conservator of Forest, और Forest Ranger का पद आदि आते हैं।
  • MPPSC में Deputy District Head in Home (Police) Department
  • Deputy Superintendent of Police (DSP)
  • District Fighter
  • Assistant Director in Public Relations
  • Assistant Director in Cooperatives Department, Assistant Commissioner
  • Cooperatives and Assistant Registrar
  • Superintendent
  • Naib Tehsildar
  • Cooperative Inspector या Cooperative Extension Officer
  • MP Subordinate in Accounts Service जैसे पदों का नाम ही मुख्य पदों में आता है।

इनके अतिरिक्त भी कई अन्य post होती है, जिनके लिए परीक्षाए अलग से आयोजित की जाती है।

MPPSC के Posts के लिए योग्यता

यूपीएससी की तरह एमपीपीएससी के लिए भी यदि आप ग्रेजुएट हैं तो इसकी परीक्षा में बैठ सकते हैं।

Final year का exam दे चुके अभ्यर्थी जो अपने रिज़ल्ट का इंतज़ार रहे हों, वो भी इसकी परीक्षा के लिए apply करने के योग्य होते हैं।

इसके अलावा जो अभ्यर्ती राज्य सरकार द्वारा तय मानकों के अनुरूप प्रोफेशनल और तकनीकी योग्यता रखते हैं, वो भी इस परीक्षा में बैठने के पात्र होते हैं।

यह जरूरी है कि अभ्यर्थी सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त किसी संस्थान से ही ग्रेजुएशन की डिग्री ले।

MPPSC की परीक्षा में बैठने के लिए अभ्यर्थी का भारतीय नागरिक होना अनिवार्य है।

इसके लिए डॉमिसाइल नियम निर्धारित है जिसके अनुसार अभ्यर्थी मध्य प्रदेश का स्थाई निवासी होना चाहिए और अभ्यर्थी द्वारा कक्षा 10वीं और 12वीं की परीक्षा मध्य प्रदेश से ही पास किया हुआ होना चाहिए।

MPPSC की परीक्षा में बैठने के लिए अभ्यर्थी की उम्र 21 से 30 वर्ष के बीच होनी चाहिए।

हालांकि MP के मूल निवासियों के लिए आयु की अधिकतम सीमा 35 वर्ष है। SC/ST, OBC, महिला और दिव्यांग जैसे आरक्षित वर्गों के लिए आयु सीमा में छूट का प्रावधान है।

इसके अतिरिक्त पुलिस विभाग, जेल और आबकारी विभाग आदि के कई प्रशासनिक पदों की भर्ती के लिए अधिकतम आयु सीमा का निर्धारण भर्ती नियमों के अनुरूप किया जाता है।

MPPSC के लिए आवेदन कैसे करें?

आवेदन के लिए आपको online फॉर्म भरना होगा, सबसे पहले इसकी आधिकारिक वेबसाइट mppsc.nic.in पर जाकर अप्लाई ऑनलाइन बटन पर क्लिक करें।

वहां आप संबंधित लिंक पर click करके MP Online की साइट पर पहुंच जाएंगे, जहां आप पोस्ट से जुड़े लिंक पर जाकर “action” बटन पर क्लिक करेगें।

इसके बाद आपको फॉर्म में सभी आवश्यक जानकारियां भरके स्कैन किए गए डॉक्यूमेंट्स अपलोड करने होंगे, इसके बाद आप ऑनलाइन ऐप्लिकेशन की फीस भरकर submit कर देंगे।

ध्यान रखना चाहिए कि आप अपनी व्यक्तिगत और शैक्षिक जानकारियां बिल्कुल सही भरें, गलती होने पर परेशानी हो सकती है।

हालांकि सुधार के लिए MPPSC करेक्शन विंडो का विकल्प भी देती है, जहां आप तय समय के पहले आवेदन में बदलाव कर सकते हैं, जिसके लिए अभ्यर्थी को एक निर्धारित शुल्क चुकाना पड़ता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Website बनाकर पैसे कैसे कमाए? [30,000 महीने]