तमिलनाडु की राजधानी कहां है? | Capital of Tamilnadu in hindi

आज हम जानेंगे कि तमिलनाडु की राजधानी कहां है? (Tamilnadu ki rajdhani kahan hai) या तमिलनाडु की राजधानी क्या है? (Tamilnadu ki rajdhani kya hai) तथा तमिलनाडु एवं तमिलनाडु के राजधानी में प्रसिद्ध स्थल कौन-कौन से हैं?

तमिलनाडु की राजधानी (Capital of Tamilnadu in hindi) के बारे में पूरे विस्तार से जानने के लिए इसे पूरे ध्यान से पढ़ें।

तमिलनाडु की राजधानी क्या है? (Tamilnadu ki rajdhani kahan hai)

Capital of Tamilnadu in hindi

तमिलनाडु की राजधानी ‘चेन्नई’ है।

भारत देश के दक्षिणी राज्य तमिल नाडु की राजधानी चेन्नई है जिस का पूर्व नाम मद्रास था। चेन्नई दक्षिण भारत का सबसे बड़ा आर्थिक, सांस्कृतिक और शैक्षिक केंद्र है। यह चेन्नई जिले में पड़ता है।

जनसंख्या की दृष्टिकोण से यह भारत देश का चौथा सबसे अधिक आबादी वाला शहर है। इस शहर को ‘भारत का स्वास्थ्य पूंजी’ कहा जाता है। तमिलनाडु के चेन्नई शहर को लिविंग सर्वेक्षण की गुणवत्ता में सबसे सुरक्षित शहर का दर्जा दिया गया है। इस शहर की कई खूबियां है।

नेशनल ज्योग्राफिक के द्वारा चेन्नई के भोजन को दुनिया में दूसरा सबसे अच्छा स्थान दिया गया है। चेन्नई शहर अपनी परंपरा एवं संस्कृति के लिए भी जाना जाता है।

तमिलनाडु की राजधानी की क्षेत्रफल एवं जनसंख्या

क्षेत्रफल एवं जनसंख्या में चेन्नई जिला 426 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र में फैला है, एवं समुद्र तल से इसकी ऊंचाई 6.7 मीटर की है। जनसंख्या में वर्ष 2011 में हुई जनगणना के अनुसार इस शहर की आबादी 4646732 एवं पूरे महानगर की आबादी 8696010 दर्ज की गई थी।

वर्ष 2001 की जनगणना के अनुसार शहर की जनसंख्या 43 लाख से अधिक, जबकि कुल महानगर की जनसंख्या 70 लाख से अधिक थी। जिससे शहर का जनसंख्या घनत्व 24682 व्यक्ति प्रति वर्ग किलोमीटर का हो जाता है, जिस कारण चेन्नई को विश्व के सर्वोच्च जनसंख्या वाले शहरों में गिना जाता है।

लिंग अनुपात में, प्रति हजार पुरुष 941 स्त्रियां हैं। एवं साक्षरता दर में, यहां की औसत साक्षरता दर राष्ट्रीय औसत साक्षरता दर से अधिक, 80.24% है।

तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई की भूगोल एवं जलवायु

भूगोल एवं जलवायु में तमिलनाडु का चेन्नई भारत के दक्षिण पूर्वी तट पर तमिलनाडु प्रदेश के उत्तर पूर्वी तटीय क्षेत्र (जिसे पूर्वी तटीय मैदानी क्षेत्र भी कहा जाता है) में स्थित है। चेन्नई के समुद्र तट का विस्तार 12 किलोमीटर तक है जिससे मरीना बीच के नाम से जाना जाता है। शहर के मध्य में कूवम नदी और दक्षिण से अडयार नदी बहती है, जिन्हें बकिंघम नहर के द्वारा जोड़ा गया है।

जलवायु में, चेन्नई के सागर तट पर होने एवं थर्मल इक्वेटर पर स्थित होने से यहां का वार्षिक तापमान लगभग एक समान ही रहता है। सामान्यत: साल भर मौसम उमस भरा एवं गर्म रहता है। गर्मी में अधिकतम तापमान 38 से 42 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचता है, एवं ठंड ऋतु में 18 से 20 डिग्री सेल्सियस के साथ जनवरी का महीना सबसे ठंडा होता है। सितंबर से दिसंबर के बीच वर्षा ऋतु में औसतन 1300 मिलीमीटर की वर्षा होती है।

तमिलनाडु की राजधानी में शिक्षण संस्थान

शिक्षण संस्थानों में चेन्नई में सरकारी और प्राइवेट दोनों प्रकार के विद्यालय हैं, जिनमें अंग्रेजी या तमिल माध्यम से शिक्षा दी जाती है। यहां के ज्यादातर विद्यालय केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड या तमिलनाडु राज्य शिक्षा मंडल से जुड़े हैं। शहर में प्राथमिक, माध्यमिक और उच्चतर माध्यमिक स्कूले हैं।

इंजीनियरिंग के क्षेत्र में भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, कॉलेज आफ इंजीनियरिंग गिंडी, एसआरएम विश्वविद्यालय तथा मद्रास प्रौद्योगिकी संस्थान जैसे संस्थान इंजीनियरिंग की शिक्षा देते हैं।

अन्य संस्थानों में मद्रास मेडिकल कॉलेज, किलपॉक मेडिकल कॉलेज, एसआरएम मेडिकल कॉलेज तथा स्तेनली मेडिकल कॉलेज जैसे संस्थान चेन्नई के मुख्य चिकित्सीय महाविद्यालय में आते हैं। इसके अलावा कला, वाणिज्य और विज्ञान क्षेत्र में क्रिश्चियन कॉलेज, द न्यू कॉलेज, पेट्रिशियन कॉलेज, तथा लोयला कॉलेज कुछ प्रसिद्ध स्वशासी महाविद्यालय हैं।

चेन्नई दक्षिण भारत का प्रमुख वाणिज्य व्यवसाय तथा यातायात का केंद्र है। यहां भारत का तीसरा सबसे बड़ा बंदरगाह है। औद्योगिक क्षेत्र में चेन्नई में प्रौद्योगिकी, हार्डवेयर उत्पादन, ऑटोमोबाइल एवं स्वास्थ्य संबंधी उद्योग स्थित है चेन्नई सूचना प्रौद्योगिकी संबंधित उत्पादों एवं सॉफ्टवेयर इत्यादि में भारत का दूसरा सबसे बड़ा निर्यातक है यहां के उपनगरीय क्षेत्र में ऑटोमोबाइल उद्योग काफी विकसित है। चेन्नई अपने औद्योगिक महत्व में, तमिलनाडु के जीडीपी का 39% एवं देश के आटोमोटिव निर्यात में 60% की भागीदारी रखता है।

चेन्नई में भारत सरकार  द्वारा एशिया का सबसे विशाल रेलवे डिब्बा निर्माण कारखाना इंटीग्रल कोच फैक्ट्री चेन्नई स्थापित की गई है। यहां के उद्योगों में रासायनिक उद्योग, सूती वस्त्र उद्योग, कागज से निर्मित वस्तुओं के उद्योग, चमड़ा उद्योग, मोटर गाड़ी, साइकिल, चीनी, डीजल इंजन, सीमेंट आदि के उद्योग स्थापित है। चेन्नई रिफायनरी, हिंदुस्तान टेलीप्रिंटर्स तथा चेन्नई फर्टिलाइजर आदि प्रमुख फैक्ट्री में गिने जाते हैं।

तमिलनाडु की राजधानी में पर्यटन स्थल

पर्यटन स्थलों के मामले में चेन्नई  में अनेक दर्शनीय स्थान मौजूद है, जिनमें कपिलेश्वर और पार्थसारथी का मंदिर, चेपाक महल, मत्स्य पालन केंद्र, अजायबघर, मद्रास विश्वविद्यालय और यहां के चिड़ियाघर जैसे स्थानों का नाम आता है।

मरीना बीच चेन्नई  के सबसे प्रमुख पर्यटक आकर्षण में से है। चेन्नई का समुद्र तट 12 किलोमीटर जितना है जो कि विश्व का दूसरा सबसे लंबा समुद्र तट है। चौड़ाई में इस तट की चौड़ाई 200 से 300 गज जितनी है। रुचि रखने वाले पर्यटकों के लिए यहां एक स्विमिंग पूल भी है इस बीच पर पर्यटक घूमना और इंजॉय करना बेहद पसंद करते है।

सन् 1640 में ईस्ट इंडिया कंपनी के फ्रांसिस डे के द्वारा बनवाया गया सेंट जॉर्ज फोर्ट Chennai का एक प्रमुख आकर्षण है। यह किला ईस्ट इंडिया कंपनी का व्यापारिक केंद्र भी था। यहां पुरानी सैनिक छावनी, अधिकारियों के मकान, सेंट मैरी गिरजाघर एवं रॉबर्ट क्लाइव का घर भी देखा जा सकता है।

स्नेक पार्क चेन्नई में पर्यटकों को काफी आकर्षित करता है।  रोमुलस व्हीटेकर नामक अमेरिकी द्वारा बनवाया गया  यह एक अलग ही प्रकार का पार्क है, जहां 500 से भी अधिक भारतीय सांपो का जीवित संग्रहालय देखने को मिलता है। सांपों के अलावा यहां घड़ियाल, मगरमच्छ जैसे सरीसृप भी देखे जा सकते हैं।

चेन्नई में धार्मिक दृष्टिकोण के से कई महत्वपूर्ण मंदिर स्थित है जिनमें तिरुशैलीफेनी स्थित पार्थसारथी मंदिर एवं कालीश्वर मंदिर का नाम आता है।

National art gallery भी दर्शन योग्य स्थानों में आता है।

परिवहन एवं यातायात – तमिलनाडु की राजधानी में

परिवहन एवं यातायात में भारत देश के सबसे प्रमुख शहरों में से एक होने के कारण यहां परिवहन में किसी भी प्रकार की कोई समस्या नहीं है यहां भाइयों मार्ग रेल मार्ग सड़क मार्ग जलमार्ग किसी भी तरह से आसानी से पहुंचा जा सकता है।

रेल मार्ग में चेन्नई दक्षिण भाग रेलवे का मुख्यालय है। शहर में दो मुख्य रेलवे टर्मिनल मौजूद है। देश के अन्य सभी बड़े और मुख्य शहरों जैसे कोलकाता मुंबई दिल्ली बेंगलुरु हैदराबाद आदि के लिए चेन्नई सेंट्रल रेलवे स्टेशन से नियमित रेल सुविधा उपलब्ध है। Tamil Nadu के दूसरे शहरों के लिए  प्राय: चेन्नई एगमोर रेलवे स्टेशन से नियमित रूप से ट्रेनें चलती है।

सड़क मार्ग में चेन्नई से पांच मुख्य राष्ट्रीय राजमार्ग यानी नेशनल हाईवे गुजरते है, जोकि चेन्नई को अन्य मुख्य शहरों जैसे कोलकाता, मुंबई, तिंदीवनम और पुदुचेरी जैसे शहरों से जोड़ते हैं। चेन्नई का मोफसिस्ल बस टर्मिनस से चेन्नई के सभी अंतरराज्य क्षेत्रों के लिए बस सुविधा मिलती है, यह एशिया का सबसे बड़ा बस अड्डा है। सड़क मार्ग से चेन्नई देश के दूसरे क्षेत्रों से भली-भांति जुड़ा है एवं स्वयं चेन्नई के अंदर भी सड़क मार्ग का उत्तम नेटवर्क है।

वायु मार्ग में अन्ना अंतरराष्ट्रीय टर्मिनल तथा कामराज अंतर्देशीय टर्मिनल के साथ चेन्नई अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा भारत का तीसरा सबसे अधिक व्यस्त हवाई अड्डा है। चेन्नई शहर से दक्षिण पूर्व एशिया, पूर्वी एशिया, मध्य यूरोप, यूरोप एवं उत्तरी अमेरिका के प्रमुख स्थानों के लिए कई राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय विमान सेवा उपलब्ध है। देश के किसी भी क्षेत्र से वायु मार्ग से यहां पहुंचना काफी आसान है।

इसके अलावा शहर में दो पोर्ट यानी बंदरगाह भी है, जिनमें देश के सबसे बड़ी कृत्रिम बंदरगाह में से एक चेन्नई पोर्ट एवं एन्नोर पोर्ट शामिल है।

घर बैठे पैसे कैसे कमाएं? [25,000 हर महीने]