पंजाब की राजधानी कहां है? | Capital of Punjab in hindi

आज हम जानेंगे कि पंजाब की राजधानी कहां है? (punjab ki rajdhani kahan hai) या पंजाब की राजधानी क्या है? (punjab ki rajdhani kya hai) तथा पंजाब एवं पंजाब के राजधानी में प्रसिद्ध स्थल कौन-कौन से हैं?

पंजाब की राजधानी (Capital of Punjab in hindi) के बारे में पूरे विस्तार से जानने के लिए इसे पूरे ध्यान से पढ़ें।

पंजाब की राजधानी क्या है? (Punjab ki rajdhani kahan hai)

Capital of Punjab in hindi

पंजाब की राजधानी ‘ चंडीगढ़ ‘ है।

यह भारत देश के 2 राज्यों की राजधानी एवं एक केंद्र शासित प्रदेश है। चंडीगढ़ भारत के पंजाब राज्य के साथ-साथ हरियाणा की भी राजधानी है, साथ ही साथ यह खुद एक केंद्र शासित प्रदेश भी है। इस शहर को सिटी ब्यूटीफुल भी कहा जाता है। यह भारत का पहला ऐसा शहर है जिसे पूरी तरह आयोजन से बसाया गया है। यानी यह आधुनिक भारत का पहला  योजनाबद्ध शहर है।

इस शहर का नाम चंडीगढ़, चंडी का किला के ऊपर पड़ा है। यह एक हिंदू देवी दुर्गा (जिनके एक रूप का नाम चंडी है) का मंदिर  है जो कि आज भी शहर में स्थित है, एवं इस शहर की एक धार्मिक पहचान है। पंचकूला, जीरकपूर एवं मोहाली जैसे क्षेत्र चंडीगढ़ राजधानी क्षेत्र के अंदर आते हैं, जिनकी कुल जनसंख्या वर्ष 2001 की जनगणना के अनुसार एक करोड़ 16 लाख के करीब है। देश की लोकसभा में चंडीगढ़ के लिए एक सीट आवंटित है।

पंजाब की राजधानी की जनसंख्या एवं क्षेत्रफल

जनसंख्या एवं क्षेत्रफल वर्ष 2011 की जनगणना के अनुसार उचित शहर की आबादी 961587 एवं इस महानगर की आबादी 10 लाख 25 हजार 682 दर्ज की गई है। वहां की कुल जनसंख्या में से शहरी क्षेत्रों में रहने वालों का प्रतिशत 89.8 एवं ग्रामीण क्षेत्र में जनसंख्या का प्रतिशत 10.2 है।

एवं साक्षरता दर में क्षेत्र की साक्षरता दर 81.9% है। क्षेत्रफल में चंडीगढ़ का क्षेत्रफल 114 वर्ग किलोमीटर में फैला है एवं समुद्र तल से इसकी औसत ऊंचाई 321 मीटर की है। प्रचलित भाषाओं में यहां पंजाबी हिंदी एवं अंग्रेजी जैसी भाषाओं का इस्तेमाल किया जाता है।

पंजाब की राजधानी की भूगोल एवं जलवायु

भूगोल एवं जलवायु मे चंडीगढ़ शहर की स्थिति हिमालय की शिवालिक पर्वतमाला की तराई में भारत के उत्तर पश्चिम में है। चंडीगढ़ का क्षेत्रफल लगभग 44 वर्ग मील का है, इसकी सीमाएं हरियाणा एवं पंजाब (भारत) से लगती है। चंडीगढ़ से सटे अन्य स्थानों में पंचकूला और अंबाला एवं पंजाब के मोहाली पटियाला और रोपड़ जैसे जिले आते हैं।

यहां की जलवायु उप उष्णकटिबंधीय महाद्वीपीय मानसून कि जैसे है। जिससे तापमान में बड़े अंतर एवं अविश्वसनीय वर्षा जैसे मौसम बनते हैं। दिसंबर से जनवरी के माह तक शीत में कभी-कभी कोहरा भी रहता है। पश्चिम से लौटते मानसून शीतकालीन वर्षा कई बार इस शहर को प्रभावित करती है।

बात की जाए अलग-अलग ऋतु में यहां के औसत तापमान की तो मध्य फरवरी से मध्य  मार्च के बीच वसंत ऋतु के दौरान मौसम सुहावना रहता है तब अधिकतम तापमान 16 डिग्री सेंटीग्रेड से 25 डिग्री सेंटीग्रेड एवं न्यूनतम तापमान 9 से 18 डिग्री सेंटीग्रेड के मध्य रहता है। ग्रीष्म काल यानी गर्मी के तापमान 46 डिग्री सेंटीग्रेड तक भी चला जाता है जबकि सामान्यत: यह 35 से 40 डिग्री सेंटीग्रेड के मध्य बना रहता है।

शीत ऋतु में ठंड अच्छी खासी होती है इस दौरान अधिकतम तापमान 7 से 15 डिग्री सेंटीग्रेड एवं न्यूनतम तापमान – 2 से 4 डिग्री सेंटीग्रेड तक भी पहुंच सकता है। मध्य जून से मध्य सितंबर वर्षा ऋतु रहती है इस दौरान अधिकतम वर्षा 195.5 मिलीमीटर अंकित की गई है। एवं पतझड़ के मौसम में अधिकतम तापमान 36 डिग्री सेंटीग्रेड एवं न्यूनतम 16 से 27 डिग्री तक रहता है।

हरियाणा प्रांत के चंडीगढ़ को पूरे उत्तर भारत में  एक प्रमुख शिक्षा केंद्र के रूप में देखा जाता है। यहां से नजदीकी राज्य जैसे पंजाब, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, जम्मू कश्मीर जैसे राज्यों से बहुत संख्या में विद्यार्थी शिक्षा लेने चंडीगढ़ आते हैं। प्रमुख शिक्षण संस्थानों में पंजाब विश्वविद्यालय , पंजाब इंजीनियरिंग कॉलेज, पीजीआईएमईआर (PGIMER) जिसका पूरा नाम पोस्टग्रेजुएट इंस्टिट्यूट ऑफ़ मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च है, जैसी शिक्षण संस्थान संस्थाओं का नाम आता है जहां उच्च स्तरीय शिक्षा प्राप्त करने कई क्षेत्रों से छात्र जाते हैं।

पंजाब की राजधानी में पर्यटन स्थल

पर्यटन के दृष्टिकोण से भी चंडीगढ़ में कई आकर्षक पर्यटन स्थल मौजूद है जो विभिन्न क्षेत्रों से पर्यटकों को आकर्षित करते हैं। यहां के मुख्य आकर्षण में

रॉक गार्डन है जिसका निर्माण नेक चंद ने किया था, एवं इससे इसके निर्माण में औद्योगिक और शहरी कचरे का इस्तेमाल किया गया था। यहां रॉक यानी पत्थरों से आकर्षक कलाकृतियां बनाई गई हैं जो आकर्षक लगती हैं। यहां की मूर्तियां महलों एवं मंदिर आदि का सौंदर्य सराहनीय है। रॉक गार्डन में जलकुंड और झरनों के साथ-साथ ओपन एयर थिएटर भी देखा जा सकता है जहां सांस्कृतिक गतिविधियां दिखाई जाती हैं। 

Capital complex जहां हरियाणा और पंजाब के अनेक प्रशासनिक भवन स्थित है। यहां उच्च न्यायालय सचिवालय एवं विधानसभा जैसी इमारतें देखी जा सकती है। यह ओपन हैंड स्मारक कला का बेहतरीन नमूना है। वर्ष 2016 में कैपिटल कांपलेक्स को यूनेस्को विश्व धरोहर स्थल घोषित किया गया है।

संग्रहालय में चंडीगढ़ में  कई संग्रहालय हैं जिसमें यहां का सरकारी संग्रहालय है जिनमें गंधार शैली की अनेक मूर्तियों का संग्रह देखने को मिलता है जोकि बौद्ध काल से संबंध रखती है। साथ ही संग्रहालय में प्रागैतिहासिक कालीन जीवाश्म एवं अनेक लघु चित्र का भी संग्रह है।

रोज गार्डन जोकि जाकिर हुसैन रोज गार्डन के नाम से भी विख्यात है एशिया का सबसे बड़ा रोज गार्डन है जहां आप गुलाब की 16 सौ से अधिक किस्मों को देख सकते हैं। प्रत्येक वर्ष यहां गुलाब पर आयोजित होता है जिसमें बड़ी संख्या में लोग यहां आते हैं। 

सुखना झील 3 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र में फैली एक मानव निर्मित झील है जिसका निर्माण 1958 में किया गया था यहां अनेक प्रवासी पक्षियों को देखा जा सकता है एवं झील में boating के दौरान प्रकृति के सुंदर नजारों का आनंद लिया जा सकता है। 

अन्य पर्यटक स्थलों में लेसर वैली, राजेंद्र पार्क, टोपियरी उपवन, बॉटनिकल गार्डन, स्मृति उपवन, शांतिकुंज, टेरेस गार्डन जैसे स्थानों का नाम आता है।

पंजाब की राजधानी में परिवहन यानी यातायात

परिवहन यानी यातायात में चंडीगढ़ वायु मार्ग, सड़क मार्ग, रेल मार्ग मे से  से भी पहुंचा जा सकता है। 

सड़क मार्ग में राष्ट्रीय राजमार्ग यानी नेशनल हाईवे 21 और 22 चंडीगढ़ शहर को देश के अन्य क्षेत्रों से सड़क मार्ग द्वारा जोड़ते हैं। देश के अन्य किसी भी मुख्य शहर से यहां bus taxi आदि से पहुंचा जा सकता है। दिल्ली, अमृतसर, ग्वालियर, मनाली, जालंधर, लुधियाना, हरिद्वार, देहरादून, कसौली आदि जैसे देश के अन्य शहरों से चंडीगढ़ के लिए नियमित बस सेवाएं उपलब्ध है। इसके अलावा अन्य निजी वाहनों द्वारा भी यहां पहुंचा जा सकता है।

हवाई मार्ग में चंडीगढ़ एयरपोर्ट इलाके सिटी सेंटर से करीब 11 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है जोकि दिल्ली मार्ग पर पड़ता है। देश के सभी बड़े प्रमुख शहरों जैसे दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, चेन्नई आदि से यहां के लिए नियमित उड़ानें भरी जाती है।

रेल मार्ग में चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन की दूरी सिटी सेंटर से तकरीबन 8 किलोमीटर की है जहां से शहर के अन्य हिस्सों तक यह रेल मार्ग से जुड़ा है। दिल्ली जैसे शहर से चंडीगढ़ के लिए प्रतिदिन  ट्रेनें हैं,  साथ ही अन्य शहरों से भी ट्रेन की सुविधा यहां के लिए उपलब्ध है।

घर बैठे पैसे कैसे कमाएं? [25,000 हर महीने]